Vishwa Bhugol ke Important Questions 2

Vishwa Bhugol ke Important Questions 2

1.वाताग्र का क्या अर्थ है?

**जब दो भिन्न प्रकार की वायु राशियां मिलती हैं तो उनके मध्य सीमा क्षेत्र को वाताग्र कहते हैं।

2.तापमान का व्युत्क्रम अथवा प्रतिलोम किसे कहते हैं?

**वायुमंडल की सबसे निचली परत क्षोभमंडल में ऊंचाई के साथ सामान्य परिस्थितियों में तापमान घटता है परंतु कुछ परिस्थितियों में ऊंचाई के साथ-साथ तापमान घटने के स्थान पर बढ़ता है।
ऊंचाई के साथ तापमान के बढ़ने को तापमान का व्युत्क्रमण कहते हैं।

3.बर्हिजनिक प्रक्रियाएं अपनी ऊर्जा कहां से प्राप्त करती हैं?

**बर्हिजनिक प्रक्रियाएं अपनी ऊर्जा सूर्य द्वारा निर्धारित वायुमंडलीय ऊर्जा एवं धरातल की दाब प्रवणता से प्राप्त करती हैं। 

4.बर्हिजनिक प्रक्रियाएं, पृथ्वी के विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न तरीके से कार्य करती है। इसका क्या कारण है?

**पृथ्वी के विभिन्न क्षेत्रों में तापक्रम तथा वर्षण की भिन्नता पाई जाती है इसलिए बर्हिजनिक प्रक्रियाएं, विभिन्न तरीके से कार्य करती है।

5.अनाच्छादन क्या है?

**विभिन्न बर्हिजनिक भू-आकृतिक प्रक्रियाएं जैसे अपक्षय,वृहत क्षरण, संचलन, अपरदन, परिवहन आदि के कारण धरातल की चट्टानों का ऊपरी आवरण हट जाता है इसे प्रक्रिया को अनाच्छादन कहते हैं। 

6.भौतिक अपक्षय क्या है?

**भौतिक अपक्षय के कारण चट्टाने छोटे-छोटे टुकड़ों में टूट जाती हैं जिनके लिए गुरुत्वाकर्षण बल, तापक्रम में परिवर्तन, शुष्क एवं आर्द्र परिस्थितियाँ जैसे कारक जिम्मेदार हैं।

7.वृहत संचलन क्या है?

**शैलों के मलबा, छोटे या बड़े रूप में गुरुत्वाकर्षण बल के कारण ढाल के सारे मंद या तीव्र गति से स्थानांतरित होता है। इसे ही वृहत संचलन कहते हैं।

8.अपरदन की प्रक्रिया से क्या तात्पर्य है?

**प्रवाहित जल, भौमजल,हिमानी, वायु, लहरों एवं धाराओं द्वारा शैलों को काटना और उससे प्राप्त अवसाद को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना अपरदन कहलाता है।

9.कार्स्ट स्थलाकृति का अभिप्राय स्पष्ट कीजिए?

**किसी भी चूना पत्थर या डोलोमाइट चट्टानों के क्षेत्र में भौमजल द्वारा घुलन प्रक्रिया व उसके निक्षेपण से बने स्थल रूपों को कार्स्ट स्थलाकृति के नाम से जाना जाता है। 

10.पवन किन प्रदेशों में अपरदन का महत्वपूर्ण कारक है?

**पवन, उष्ण मरुस्थल व अर्धशुष्क क्षेत्रों में अपरदन का महत्वपूर्ण कारक है। 

11.जलप्रपात नदी की किस अवस्था में निर्मित होते हैं?

**जलप्रपात नदी के युवा अवस्था में बनते हैं जब नदी पहाड़ों पर बह रही होती है। 

12.कौन सी गैस हमें सूर्य से आने वाली हानिकारक पराबैंगनी विकिरण से बचाती है?

**ओजोन गैस

13.वायुमंडल की कौन सी परत मानव जीवन के लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण है? 

**क्षोभमंडल

14.तापमान की सामान्य ह्रास दर किसे कहते हैं?

**क्षोभमंडल में 165 मीटर की ऊंचाई पर 1 डिग्री सेल्सियस तापमान गिर जाता है इससे तापमान का सामान्य ह्रास दर कहते हैं। 

15.आयन किसे कहते हैं?

**आयनमंडल में उपस्थित गैस के कण विद्युत-आवेशित होते हैं। ऐसे विद्युत आवेश युक्त कणों को आयन कहते हैं।

16.जलवायु के दो प्रमुख तत्वों के नाम बताइए ?

**तापमान एवं वर्षा

17.वायुमंडल में धूल के कणों का क्या महत्व है?

**वायुमंडल में वायु की गति के कारण सूक्ष्म धूल के कण उड़ते रहते हैं।
ये कण विभिन्न स्रोतों से प्राप्त होते हैं। इनमें  सूक्ष्म मिट्टी, धूल, समुद्री नमक, धुएँ की कालिख राख तथा उल्कापात के कण सम्मिलित है।
इनमें से अधिकांश आर्द्रताग्राही केंद्र बन जाते हैं जिन पर वायुमंडलीय जलवाष्प का संघनन होता है। इस प्रक्रिया से बादल बनते हैं और वर्षा होती है ।
धूलकण, सूर्यातप को रोकने तथा उसे परावर्तित करने का कार्य भी करते हैं।
यह सूर्योदय तथा सूर्यास्त के समय आकाश में लाल तथा नारंगी रंग की छटाओं का निर्माण करते हैं।

18.पृथ्वी के धरातल पर तापमान के वितरण को प्रभावित करने वाले कारकों का नाम बताइए? 

**उष्मा किसी पदार्थ कणों के अणुओं की गति को दर्शाती है, वही तापमान किसी पदार्थ या स्थान के गर्म या ठंडा होने या डिग्री में माप है।
किसी भी स्थान पर वायु का तापमान निम्नलिखित कारकों द्वारा प्रभावित होता है: अक्षांश, तुंगता या ऊंचाई, समुद्र से दूरी, और वायुसंहति या वायुराशि तथा महासागरीय धाराएं।

19.पृथ्वी के किस स्थान पर दिन अथवा रात सबसे बड़े होते हैं?

**ध्रुवों पर ।

20.एल्बिडो को परिभाषित कीजिए?

**सूर्य से आने वाली सौर विकिरण का 27 इकाइयां बादलों के ऊपरी छोर से तथा 2 इकाइयां पृथ्वी के ही हिमाच्छादित क्षेत्रों द्वारा परावर्तित होकर लौट जाता है।
सौर विकिरण की इस परावर्तित मात्रा को पृथ्वी का एल्बिडो कहते हैं।

21. तापमान क्या होता है?

**तापमान, उष्मा से पैदा हुई गर्मी का माप है। 

22.किस अक्षांश पर 21 जून को सूर्य की किरणें सीधी पड़ती है? 

**कर्क रेखा

23.किस अक्षांश पर 21 दिसंबर की दोपहर को सूर्य की किरणें सीधी पड़ती हैं?

**मकर रेखा 

Vishwa Bhugol ke Important Questions 2

24. 21 मार्च और 23 से सितंबर को सूर्य की किरणें किस अक्षांश पर सीधी पड़ती हैं? 

**विषुवत वृत्त पर।

25. अपसौर किसे कहते हैं? 

**सूर्य के चारों ओर परिक्रमण के दौरान पृथ्वी 4 जुलाई को सूर्य से सबसे दूर अर्थात 15 करोड़ 20 लाख किलोमीटर दूर होती है। पृथ्वी की इस स्थिति को अपसौर कहते हैं। 

Vishwa Bhugol ke Important Questions 2

26. उपसौर किसे कहते हैं? 

**3 जनवरी को पृथ्वी, सूर्य के सबसे निकट अर्थात 14 करोड़ 70 लाख किलोमीटर दूर होती है। इस स्थिति को उपसौर कहा जाता है। 

27.भू-आकृति कारक क्या है?  

**प्रकृति के तत्व जो धरातल के पदार्थों का अधिग्रहण तथा परिवहन करने में सक्षम है जैसे जल, हिम, वायु आदि, भूआकृतिक कारक कहते हैं । 

28. टोरनैडो या जलस्तंभ किसे कहते हैं? 

**भयानक तड़ितझंझा से कभी-कभी वायु आक्रामक रूप में हाथी की सूंड की तरफ सर्पिल अवरोहण करती है।
इसमें केंद्र पर अत्यंत कम वायुदाब होता है और यह व्यापक रूप से भयंकर विनाशकारी होते हैं। इस परिघटना को टोरनैडो कहते हैं।
टोरनैडो सामान्यतः मध्य अक्षांशों में उत्पन्न होती है। समुद्र पर टोरनैडो को जलस्तंभ कहते हैं।

29. संवहन तथा अभिवहन क्या है?

**संवहन प्रक्रिया द्वारा वायुमंडल में क्रमशः लंबवत ऊष्मा का स्थानांतरण होता है। 
अभिवहन प्रक्रिया में ऊष्मा का क्षेत्र दिशा में स्थानांतरण होता है।

Vishwa Bhugol ke Important Questions 2

30.वायुमंडल सूर्यातप की अपेक्षा भौमिक विकिरण से अधिक गर्म क्यों होता है? 

**सूर्य से प्राप्त होने वाला विकिरण लघु तरंगों के रूप में होता है जिसे वायुमंडल सोख नहीं सकता है।
यह प्रवेशी विकिरण भूतल पर पहुँचकर पृथ्वी को गर्म करता है।
पृथ्वी की उष्मा दीर्घ तरंगों के रूप में निकलती है जिसे वायुमंडल की गैस अवशोषित करती है। और वायुमंडल गर्म हो जाता है।

Vishwa Bhugol ke Important Questions 1

1 thought on “Vishwa Bhugol ke Important Questions 2”

  1. नमस्ते सर,
    कैसे हैं आप ,

    मै आपसे फेसबुक पर जुडा हूँ,
    मुझे आपकी मदद की जरूरत है,
    What’s app no off he

    केशवेन्द्र सिंह
    पाली -राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published.